शनिवार, 25 जुलाई 2009

आकाल का सिर फुट गया बिजाई जोरों पर

शुक्रवार शाम 4 बजे बीकानेर और आस पास जोरदार बारिश हुई मजेदार बात ये रही की बरसात के साथ गुआर वायदा के भाव भी बढ़ते रहे जो विस्मय कारक बात थी ऐसा किसी ताकत वर सटोरिया की जोर आजमाइश से ही हो सकता है !बारिश के बाद लोगो से बात करने पर सभी तरफ से समाचार मिला की इससे गुआर की बिजाई का रकबा लगभग ७०%तक पुरा हो जाएगा !पुगल के शान्ति बुचा बताते है हमारी एरिया में सीजन की पहली बरसात हुई है और बिजाई से खाली इस एरिया में भरपूर बिजान हो जाएगा !देहात में बज्जू ,छतरगढ ,खाजूवाला ,दंतोर ,जैमलसर,कानासर ,शोभासर ,नाल,बदरासर आदि गांवो में अछी बरसात के समाचार है !किसान मानते है की आकाल का सिर तो अब फुट गया है !वेसे राजस्थान आकाल के बारे में एक कहावत मशहूर है की -पग पुगल धड कोतडे -बायाँ बह्ड्मेर,फिरतो गिरतों जोधपुर,ठावो जैसलमेर ! आज बाजार सामान्य घट बढ़ के साथ ही रहा !गुआर २०५८ रहा !

4 टिप्‍पणियां:

SELECTION & COLLECTION SELECTION & COLLECTION ने कहा…

-पग पुगल धड कोतडे -बायाँ बह्ड्मेर,फिरतो गिरतों जोधपुर,ठावो जैसलमेर !
pukhrajji chopra

आप द्वारा कृषि आधारित जानकारी बेहतर लगी।
आभार/ मगल भावनाऐ

हे! प्रभु यह तेरापन्थ
मुम्बई-टाईगर

SELECTION & COLLECTION

shama ने कहा…

Qudrat kaa shukr hai..!

http://shamasansmaran.blogspot.com

http://lalitlekh.blogspot.com

http://kavitasbyshama.blogspot.com

http://aajtakyahantak-thelightbyalonelypath.blogspot.com

शशांक शुक्ला ने कहा…

भगवान भला करें कि बारिश तो हुई

merajawab.blogspot.com

संगीता पुरी ने कहा…

बहुत सुंदर…..आपके इस सुंदर से चिटठे के साथ आपका ब्‍लाग जगत में स्‍वागत है…..आशा है , आप अपनी प्रतिभा से हिन्‍दी चिटठा जगत को समृद्ध करने और हिन्‍दी पाठको को ज्ञान बांटने के साथ साथ खुद भी सफलता प्राप्‍त करेंगे …..हमारी शुभकामनाएं आपके साथ हैं।