सोमवार, 4 जनवरी 2010

ग्वार में मंदी और तेल सरसों सोया में तेजी

ग्वार वायदा आज मंदा रहा और इसमे तीन प्रतिशत का सर्किट लग गया जोरदार मंदी बनी हालाँकि मंदी की कोई सम्भावना नजर नही आ रही थी !आम तौर पर लोगों का ध्यान तेज था !जेसाकी पहले लिखा था की ग्वार में फसल से ज्यादा रोजाना का कारोबार है इसलिए इस आइटम में तेजी मंदी निकलना मुशीबत का काम है !फ़िर भी ये बात लगती है की जिस तरह पिछले दिनों गम का व्यापर हुआ वेसे में ग्वार तेजी जरुर बनाएगा !छोटी फसल होने से बिकवाली रखना हमेशा तलवार लटकाए रखना जेसा ही है !चने की पुरी तरह दुर्गत हो चुकी है और तेजड़िए निढाल है अब और तेजी की तरफ मुंह करना आसान नही है सिर्फ़ सटोरिये ही कोई उठा पटक इसमे कभी ला सकते है !सरसों ,सोया ,सोयातेल आदि बाजार तेज थे इन पर राजस्थान की बरसात का कोई असर नही था बरसात का तुरत फुरंत असर सिर्फ़ चने में ही देखने को मिला !

1 टिप्पणी:

संजय बेंगाणी ने कहा…

ध्यान रखेंगे.