शुक्रवार, 18 सितंबर 2009

ग्वार में बिना वजह तेजी मंदी

ग्वार दो दिन घटने के बाद फ़िर तेज रहा पर उपर के भावों को छू नही सका !दो दिन जो मंदी बनी थी उसे बीकानेर वाले तो समझ नही पाए क्योंकि लगातार मोसम साफ था और फसल को नुकसान पहुंचाने वाली हवाएं चल रही थी !अब तक का जो अनुमान है ग्वार की फसल पेंतीस लाख बोरी से ज्यादा नही आएगी इस फसल से तो तेजी बनती है पर गम की डिमांड पिछले साल जितनी ही रही तो अब जो भाव चल रहें है उसीके आस पास बाजार घूमता रहेगा !पिछले एक महीने को देखें तो बिना वजह घट बढ़ आती रही है कारण एग्री कोमोडिटी में सटोरियों की सबसे पिर्य जींस ग्वार ही है !इसही कोमोडिटी में आप को रोजाना नई बात सुनने को मिल जायेगी !चने का हाल तो बुरा हो ही गया राजस्थान सरकार ने लिमिट को लेकर कितनी तरह के आदेस निकले जग जाहिर हो गया की सरकार को व्यापर की समझ नही है !अगर समझ होती तो इस तरह के बार बार फेर बदल नही आते !

3 टिप्‍पणियां:

sonu ने कहा…

aap ki baat toh sahi hain
per guarkiteji koi issbar koi rok nahi payega
muje guarseed ka vyada koi bhi hajir mahina 2764 lagta hain
aapka vichar likhe

sonu ने कहा…

mera number 9413036555
issnumber per sampark kare

सिद्धार्थ जोशी Sidharth Joshi ने कहा…

यह आंधी नहीं गांधी है

ग्‍वार का रखवाला पुखराज हमारा।

ये नारे ऑन लाइनप्राप्‍त हुए हैं आपके लिए।